गुहला चीका 26 मार्च 2021कोरोनावायरस के बढ़ते मामले चिंता का विषय है। मार्च महीने में आई पॉजिटिव लोगों की संख्या कहीं ना कहीं आम लोगों की लापरवाही का कारण है। यह विचार डॉक्टर सुशीला शर्मा बेबी ने गांव पीडल में महिलाओं और लोगों को टीकाकरण कार्यक्रम की जानकारी देते हुए कहे। डॉक्टर सुशीला शर्मा ने कहा कि कोविड-19 टीकाकरण से देखती में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है और उसे वैक्सीन की 2 डोज लेना जरूरी है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 टीकाकरण के लिए 60 साल के सभी और 45 वर्ष की आयु के गंभीर बीमारी से ग्रस्त लोगों को लिया गया है तथा 28 दिन के बाद वैक्सीन की दूसरी डोज दी जाती है।

IMG 20210323 WA0037

जिला जूनियर रेड क्रॉस काउंसलर गोल्ड मेडलिस्ट प्राध्यापक राजा सिंह झींंजर ने कहा कि आज लोगों को कोविड-19 टीकाकरण के लिए जागरूक करने की जरूरत है और हमें बिना किसी डर भय के अफवाहों से दूर रहते हुए टीकाकरण को प्राथमिकता देनी चाहिए। झींजर ने कहा कि कोरोनावायरस को सामाजिक दूरी, मास्क लगा कर तथा उचित टीकाकरण के द्वारा ही हराया जा सकता है। ग्राम पंचायत पीडल के पंच राणा शर्मा ने कार्यक्रम की सराहना करते हुए कहा कि डॉक्टर सुशीला शर्मा द्वारा लोगों को पूर्ण जागरूक किया जा रहा है तथा सरकारी हस्पताल एवं संस्थानों में जाकर मुफ्त कोविड-19 वैक्सीन का फायदा उठाना चाहिए। इस अवसर पर संतोष, अनु देवी, किताबो देवी, दुफी, छोटो, सुनीता, रेनू, पतासो, सीता देवी, कविता, आशा रानी, उषा देवी, प्रियंका, कलावती, निर्मला, संतोष देवी, सावित्री देवी आदि उपस्थित थी।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here