विधायक ईश्वर सिंह ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि लोगों की समस्याओं को प्राथमिकता के आधार पर हल किया जाए। किसी भी हलका वासियों को कोई भी समस्या नहीं आनी चाहिए, सभी की समस्याओं का अधिकारी समय रहते समाधान करना सुनिश्चत करेंगे।

        विधायक सोमवार को अपने निवास पर आमजन की समस्याओं को सुन रहे थे। उन्होंने कहा कि विधानसभा गुहला के वासियों को किसी भी प्रकार की समस्या नहीं आने दी जाएगी और सभी की समस्याओं का प्राथमिकता के आधार पर समाधान किया जाएगा।

        इस दौरान गांव ककराला अनायत के निवासी रणजीत सिंह, शीला देवी, हरजीत सिंह ने गांव में बने गंदा नाला के साईड में ब्लाक लगवाने तथा मेन सड़क से लेकर रणजीत सिंह के घर तक गली को पक्का करने बारे मिले। गांव हरिगढ़ किंगन के गुरजंट लक्खा, इन्द्रजीत सिंह, अजय कुमार, सुखविन्द्र सिंह, अशोक, प्रकाश आदि गांव में खेल स्टेडियम बनाने की मांग की। गांव खरौदी के मंगल सिंह, बीरा राम, सुरजीत सिंह, रूलदू  सिंह, कुलदीप सिंह ने 4 डेरों को जाने वाला कच्चा रास्ता पक्का करने बारे अनुरोध किया। गांव फर्शमाजरा के निवासियों ने बरसात के पानी की निकासी का स्थाई हल करने व फसलों को डूबने से बचाने बारे मिले। गांव फिरोजपुर निवासियों ने विधायक को बताया कि गांव में गंदे पानी की निकासी न होने से लोगों को काफी परेशानी हो रही है, गांव में गंदे पानी का नाला बनाने, खेल के मैदान की चारदीवारी व मैदान में पेवर ब्लाक लगवाए जाए।

        भूना गांव के निवासियों ने विधायक से फरियाद की कि उन्होंने चीका की गऊशाला को चारा लगाने के लिए जमीन दी थी, जिसका गऊशाला वालों ने शर्तों के मुताबिक काम न करते हुए वहां चारा लगाने की बजाए धान की खेती की,जो तय की गई शर्तों के खिलाफ है। विधायक ने दोनों पक्षों को बुलाकर उनसे बात की और उनके प्रयासों से दोनों पक्षों में सहमति बनी और यह तय हुआ कि गऊशाला वाले भविष्य में धान की खेती ना करके केवल चारा लगाएंगे।

        इन सभी समस्याओं को विधायक ने गम्भीरता के साथ सुना और समाधान के लिए दूरभाष पर ही सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। विधायक ने कहा कि सभी अधिकारी व कर्मचारी लोगों की समस्या को गम्भीरता से लेकर समाधान करना सुनिश्चित करे। इस अवसर पर डीएसपी किशोरी लाल, नायब तहसीलदार वीरेन्द्र कुमार, एसडीओ श्याम लाल, एसडीओ सिंचाई दीपक मेहरा, एसडीओ आशीष इत्यादि अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here