पंजाब की तर्ज पर पुरानी पैनशन स्कीम लागू करे हरियाणा सरकार  वरना 2024 मे आम आदमी पार्टी की सरकार तो लागू करेगी ही। यह मांग आज यहां पत्रकारों से बात करते हुए आम आदमी पार्टी के नेता कुलभूषण शर्मा व दलबीर मलिक ने संयुक्त रुप से करते हुए कहा कि लम्बे समय से हरियाणा के कर्मचारी पुरानी पैनशन स्कीम लागू करने की  मांग करते आ रहे हैं परन्तु सरकार के कानों पर जूं तक नहीं रेंग रही है। दोनों नेताओं ने कहा है कि सरकार इसी तरह से कर्मचारियों की मांगों की अनदेखी करती रहेगी तो वह दिन दूर नहीं कि पंजाब की तरह हरियाणा में भी भाजपा का सुपड़ा साफ होगा और 2024 मे आप की सरकार इसे लागू करने को कृतसंकल्प है। पंजाब में प्रचंड बहुमत से आम आदमी पार्टी की सरकार  आने से यह साफ हो गया है  के जनता  आम आदमी पार्टी की नीतियों  को पसंद कर कर रही है और इन दोनों पार्टियों की नीतियों से तंग आकर लोग  इन्हें सत्ता  के नजदीक  नहीं फटकने देना चाहते। उन्होंने कहा कि  पंजाब में दिग्गज नेताओं का  सुपड़ा साफ होना यह दर्शाता है कि काठ की हांडी बार-बार नहीं चढ़ती  और भ्रष्टाचार में लिप्त नेताओं को  जनता ज्यादा दिन सहन नहीं करेगी । उन्होंने पंजाब मे मुख्यमंत्री  भगवंत मान द्वारा एम.एल.ए.को  केवल एक पेंशन  देने के फैसले को  अभूतपूर्व फैसला बताते हुए कहा कि आश्चर्यजनक बात तो यह कि एक दिन का विधायक और सांसद तो पैनशन लेने का हकदार हैं परन्तु 25-30 वर्ष समर्पण भाव से सेवा करने वाला कर्मचारी पैनशन लेने का हकदार नहीं हैं।आप नेता कुलभूषण शर्मा व दलबीर मलिक ने कहा कि आने वाले दिनों में प्रदेश में आम आदमी पार्टी की सरकार आएगी तो हरियाणा में भी पुरानी पैनशन स्कीम लागू होगी। दिल्ली की तर्ज पर हरियाणा में भी सरकारी स्कूलों व अस्पतालो की दशा और दिशा को बदला जाएगा। दोनों नेताओं ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि प्रदेश की जनता खोखले वायदों से तंग आ चुकी है, क्योंकि स्कूलों में मुलभूत सुविधाओं का टोटा है। स्वच्छता अभियान का ढिंढोरा पीटा जा रहा लेकिन स्कूलों में स्वीपर और चौकीदार नहीं हैं। हैडमास्टर और प्रिंसिपल व अध्यापकों के 48000 से ज्यादा  पद खाली पड़े हैं । मॉडल संस्कृति स्कूल बना तो दिए लेकिन ना तो उनमें कमरे हैं ना अध्यापक हैं और ना ही सुविधाएं हैं। कहने को इंग्लिश मीडियम स्कूल पढ़ाने को अध्यापक नदारद। पिछले 2 साल मैं अभी तक स्कूलों में पूरे अध्यापक भी नहीं दे पाई हरियाणा सरकार। मॉडल संस्कृति स्कूलों में शिक्षकों को डेपुटेशन पर ले कर काम चलाया जा रहा है।शिक्षा विभाग के कार्यालयों में भ्रष्टाचार चरम सीमा पर है । निदेशालय कार्यालय में तो कोई भी कार्य बिना भ्रष्टाचार के होता ही नहीं है। उन्होंने कहा कि वह शिक्षा विभाग में कार्यरत रहे हैं  और शिक्षा विभाग में कहां-कहां  क्या-क्या भ्रष्टाचार होता है उसके बारे में उन्हें पूरा पता है ।इसी प्रकार से स्वास्थ्य विभाग में भी भ्रष्टाचार चरम सीमा पर है  ।बात क्या भाजपा सरकार के यह दावे बिल्कुल खोखले हैं  के  जीरो टॉलरेंस के तहत भ्रष्टाचार को सहन नहीं किया जाएगा। आज भ्रष्टाचार चरम सीमा पर पहुंचा हुआ है लेकिन भाजपा सरकार भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने में असमर्थ दिखाई देती है।  अधिकारी पहले भी मजे ले रहे थे आज भी मलाई खा रहे हैं । अस्पतालो में डाक्टर नहीं स्कूलों में मास्टर नहीं तो ऐसे  मे क्या अपेक्षा की जा सकती है, कि शिक्षा और स्वास्थ्य बेहतर होंगे। शर्मा और मलिक ने जनता से अपील करते हुए कहा कि यदि भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाना चाहते हो  और जीवन की  सभी मूलभूत सुविधाएं दुरुस्त करवाना चाहते हो तो आम आदमी पार्टी के हाथ मजबूत कर हरियाणा में आप की सरकार लांए। उन्होंने कहा कि  हरियाणा में आम आदमी पार्टी की सदस्यता ग्रहण करने के लिए लोगों का तांता लगा हुआ है  हजारों की संख्या में रोज  लोग आम आदमी पार्टी की नीतियों में विश्वास करते हुए आम आदमी पार्टी को ज्वाइन कर रहे हैं और आने वाले समय में कांग्रेस और बीजेपी को वर्कर ढूंढे नहीं मिलेंगे केवल नेता नेता रह जाएंगे । उन्होंने लोगों से अपील की थी  आम आदमी पार्टी को मजबूती प्रदान करें इसी में हरियाणा प्रदेश का हित निहित है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here