खरकांं स्कूल में राष्ट्रीय एकता एवं सांप्रदायिक सद्भावना पर कार्यक्रम का आयोजन
राष्ट्रीय सेवा योजना शिविर में स्वयं सेवकों ने निकाली राष्ट्रीय एकता रैली
विद्यालय के प्रधानाचार्य सतबीर सिंह ने रैली को झंडी दिखाकर किया रवाना
सांप्रदायिक सद्भावना क्लब प्रभारी प्राध्यापक राजा सिंह झींजर व इंद्रजीत शर्मा ने किया रैली का नेतृत्व
गुहला चीका
आज देश के युवा वर्ग को जहां राष्ट्रीय एकता और अखंडता का पाठ पढ़ाया जाना जरूरी है वहींं जाति पाती और धार्मिक भेदभाव भुलाकर सांप्रदायिक सद्भाव के लिए प्रेरित करना है। यह विचार सांप्रदायिक सद्भावना क्लब के प्रभारी प्राध्यापक राजा सिंह झींजर ने स्थानीय राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय खरकांं में स्वयंसेवकों को संबोधित करते हुए कहे। उन्होंने कहा कि आज देश को एकजुट युवा शक्ति की जरूरत है जो परोपकार की भावना के साथ आगे बढ़े। झींजर ने कहा कि स्वयंसेवक ही स्वस्थ एवं खुशहाल समाज का आधार है और स्वयंसेवकों को सामाजिक और राष्ट्रीय हित की गतिविधियों में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेना चाहिए। इस अवसर पर राष्ट्रीय एकता एवं सांप्रदायिक सद्भावना कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें राजा सिंह झींजर व इंद्रजीत शर्मा ने स्वयंसेवकों को बहुमूल्य जानकारियां प्रदान की। इस अवसर पर एक जन जागरूकता रैली का आयोजन भी किया गया जिसे विद्यालय के प्रधानाचार्य सतबीर सिंह ने झंडी दिखाकर रवाना किया और रैली का नेतृत्व कार्यक्रम अधिकारी बलराज सिंह राजा सिंह झींजर व इंद्रजीत शर्मा ने किया। स्वयंसेवकों ने स्लोगन बैनर और नारों के माध्यम से जन-जन को राष्ट्रीय एकता और सद्भावना के लिए अभी प्रेरित किया। कार्यक्रम में स्वयंसेवकों को प्राथमिक चिकित्सा सहायता एवं होम नर्सिंग का प्रशिक्षण भी दिया गया। प्रधानाचार्य सतबीर सिंह व एनएसएस कार्यक्रम अधिकारी बलराज सिंह ने झींजर के प्रेरणात्मक प्रशिक्षण की तारीफ करते हुए कहा कि ऐसे कार्यक्रमों से युवाओं को संकीर्ण मानसिकता से ऊपर उठने के अवसर प्राप्त होते हैं जो एक खुशहाल समाज के लिए बेहद जरूरी है। इस अवसर पर सैकड़ों एनएसएस स्वयं सेवक और अध्यापक प्राध्यापक उपस्थित थे।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here