नेकी का घर संस्था  ट्रस्ट गुहला चीका की तरफ से एक  रक्त दान शिविर गांव गढी़ नजीर के गुरू द्वारा साहब मे  लगाया गया। जिसमे बतोर मुख्य अतिथि बाबा बलवीर सिंह कार सेवा वाले शिरकत की।रक्तदान शिविर में 120 युवाओं ने किया। रक्तदान नेकी का घर चीका द्वारा बाबा बलवीर सिंह को साल देकर सन्मानित किया गया। साथ में श्री गुरु तेग बहादुर सेवा ट्रस्ट अजीमगढ़  और माता मंदिर माईसार कमेटी का भी सहयोग रहा   रक्तदान जीवन का एकमात्र सर्वोत्तम दान है। ऐसे महान कार्यों से हमें कभी पीछे नहीं रहना चाहिए जो जरूरतमंद के आंसू को खुशी में बदल सकते हैं । यह विचार   नेकी का घर संख्या के सदस्यों  ने  आयोजित रक्तदान शिविर का शुभारंभ एवं युवाओं का उत्साह बढ़ाते हुए कहे। उन्होंने कहा कि आज रक्तदान के लिए युवाओं को प्रोत्साहित और जागरूक करना होगा ताकि रक्तदान एक आंदोलन का रूप ले सके। बाबा बलवीर  सिंह ने रक्तदान वीरों का मेडल डालकर हौसला बढ़ाया। प्रधान ने  सदस्यों के कार्यों की तारीफ करते हुए कहा कि सामाजिक संस्थाएं समाज और राष्ट्र की रीढ़ होते हैं। उन्होंने संस्था को नशा मुक्ति के जागरूकता अभियानों में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेने के  लिए भी प्रेरित किया। इस रक्तदान शिविर में 120 युवाओं ने रक्तदान का महान कार्य किया। उन्होंने कहा कि रक्तदान कर जहां हम जरूरतमंद लोगों का जीवन बचाते हैं वहीं रक्तदान से रक्तदाता स्वयं भी शरीर की अनेक बीमारियों से राहत महसूस करता है। उन्होंने कहा कि हमें अनेक अफवाहों से दूर रहते हुए रक्तदान के लिए पहल करनी चाहिए।  सनी कालड़ा  ने कहा कि दुनिया का पहला ब्लड बैंक 1937 में शिकागो में स्थापित किया गया था। उन्होंने कहा कि ब्लड बैंक का कार्य रक्त इकट्ठा करने और आवश्यक भंडारण के साथ-साथ जरूरतमंद तक पहुंचाने की महान जिम्मेदारी है। उन्होंने अपनी टीम के साथ इस शिविर में आए लोगों के स्वास्थ्य की जांच भी की गई इस मौके पर परमजीत सिंह,गुरदीप सिंह,रणजीत सिंह  ,मास्टर भुपिंदर सिंह,,प्रगट सिंह,प्रमोद कुमार,मनजीत सिंह आदि लोग मोजूद रहे

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here